चंद्र (MOON)

नंदी ..ओ ..नंदी .. कहाँ हो.. मामा के घर से घूम के आने के बाद अब कुछ पढ़ भी लो| दो महीने होने को आये,ज्योतिष की क्लास भी नहीं लगी है तुम्हारी| कुछ याद भी है या सबकुछ भूल भल गयी? कुछ नहीं भूले हैं बाबा| सब याद है| बस आ गए कॉपी कलम लेके| …

Continue reading चंद्र (MOON)

दहीवड़ा

दहीवड़ा बनाते वक़्त अगर हम वड़े को कड़ाही में से तल कर निकालने के बाद थोड़ी देर पानी में रख कर न निचोड़ें तो वह कड़ा और कठोर ही रह जाता है, उसमें कोमलता नहीं आती है| उसके भीतर रस का प्रवेश नहीं होता है| वह टूट जाता है| खाने में कोई स्वाद नहीं आता| …

Continue reading दहीवड़ा

पीपल और हम ( मनुष्य )

हमारे यहाँ अनेक धार्मिक अवसरों पर पीपल वृक्ष के पूजन का विधान है| पीपल में पितरों का वास माना गया है| आखिर पीपल के वृक्ष को हमारे यहाँ इतनी महत्ता क्यों प्रदान की गयी है?? क्या सिर्फ इसी  वजह से या इस वजह से कि यह चौबीसों घंटे जीवन प्रदायिनी ऑक्सीजन उत्सर्जित करता है?? हमदोनों …

Continue reading पीपल और हम ( मनुष्य )

आषाढ़ पंचमी

फोटो, साभार: Google ज्योतिषशास्त्र कभी भी एकांगी होकर बात नहीं करता है| कभी भी एक सूत्रीय फार्मूला नहीं देता है| मानसून में कितनी होगी बारिश इसके फलादेश हेतु सूर्य के धनु राशि में प्रवेश से ही बहुआयामी विश्लेषण करना प्रारम्भ किया जाता है| इन सभी के बारे में मैंने पहले यहाँ चर्चा की है|  इसी …

Continue reading आषाढ़ पंचमी

राशि और ग्रह

राशि और ग्रह वशिष्ठ बाबू ने जैसे ही घर में प्रवेश किया, नंदी चहकते हुए उनके पास आकर बोली, बाबा मैंने ज्योतिष का पहला पाठ याद भी कर लिया, समझ भी लिया और अपने दोस्तों को भी बताया| चलिए अब आगे बताइये| अरे बाबा को थोड़ा आराम भी करने दोगी तुम, नंदी को उसकी माँ …

Continue reading राशि और ग्रह

बाधित हो सकती है राम मंदिर निर्माण की प्रक्रिया ??

श्री  राम के गृह निर्माण के शुरू होने के समय को लेकर बहुत सी बातें हुईं| भूमि पूजन के मुहूर्त को लेकर भी बातें हुई  कि यह मुहूर्त अशुभ है। बहुत से लोगों ने तो यह भी कहा  कि गुरु वशिष्ठ द्वारा श्री राम राज्याभिषेक का मुहूर्त निकालने के बाद भी क्या हुआ ?? 1 …

Continue reading बाधित हो सकती है राम मंदिर निर्माण की प्रक्रिया ??

शिक्षा और नौकरी

फोटो, साभार: google स्कूली दोस्त, संजय वैसे तो सभी विषयों में ठीक ठाक था पर संस्कृत के नाम पर भाग जाता था । इससे जब कहा जाता कि थोड़ा संस्कृत भी पढ़ लो, तब पटोत्तर सुनाते हुए कहता .. संस्कृत पढ़ने की जो बात करोगे .. कापी फाड़ फेंक दूँगा… कलम तोड़ ..दावात उलट..स्याही तुझे …

Continue reading शिक्षा और नौकरी