कुंडली मिलान करके शादी करने के बाद भी क्यों टूटती है शादियां ??

भारतीय परम्परा में षोडश संस्कारों में विवाह एक महत्त्वपूर्ण संस्कार है .प्रत्येक माता पिता अपने बच्चों के भविष्य को लेकर चिंतित रहते हैं .जीवन के नए अध्याय में बच्चों का प्रवेश सुख से भरा हो इसके लिए अपनी तरफ से हर एक प्रयास करते हैं .इसी क्रम में वे कुंडली मिलान करवाते हैं .लड़का एवं …

Continue reading कुंडली मिलान करके शादी करने के बाद भी क्यों टूटती है शादियां ??

संतान जन्म (मन्त्रात्मक वर्णन )

                                                (ज्योतिष, विज्ञान और रामचरितमानस से ) रामचरितमानस में जीवन के प्रति जो व्यापक दृष्टिकोण है वह सारी मानव जाति के लिए उपयोगी है |अगर कहें कि यह हमारे देश और संस्कृति का प्रतिनिधि ग्रन्थ है तो कोई अतिशयोक्ति नहीं होगी |ज्योतिष भी तो यही है | मानस और ज्योतिष दोनों मानव के परिवर्तन …

Continue reading संतान जन्म (मन्त्रात्मक वर्णन )