US Presidential Election 2020

Deadline Detroit | Poll: Joe Biden and Donald Trump in Tight Race ...

                                                                       

साल 2020 में दुनिया की सबसे बड़ी खबर बनी कोरोना वायरस की खबर, जिसने पूरी दुनिया में कोहराम मचा दी| कोरोना के साथ ही साथ एक अन्य खबर भी है जिसने विश्व में अभी हलचल मचाई है और उस खबर पर पूरी दुनिया की नजर है, वो है अमेरिका में होने वाला राष्ट्रपति चुनाव| इसी वर्ष तीन नवंबर को अमेरिका की जनता अपने नए नेता के लिए मतदान डालेगी|

भारत की तरह अमेरिका भी एक लोकतांत्रिक देश है, लेकिन वहां की प्रक्रिया थोड़ी कठिन और लंबी है|

इस साल होने वाले अमेरिकी चुनाव की प्रक्रिया जारी है और हर किसी की नजर है डोनाल्ड ट्रंप पर, क्या कोई ट्रंप को इस चुनाव में टक्कर दे पाएगा, क्या होगी ट्रम्प की वापसी|

अमेरिकी संविधान के आर्टिकल दो के सेक्शन एक में वहां के राष्ट्रपति चुनाव की जानकारी विस्तृत रूप से दी गई है| इसमें तीन प्रमुख बातों का ध्यान दिया गया है जिसके तहत अमेरिकी चुनाव की नींव पड़ती है अगर कोई व्यक्ति अमेरिका का राष्ट्रपति बनना चाहता है तो तीन शर्तों को पूरा करना जरूरी है.

1 – चुनाव लड़ने वाले व्यक्ति का जन्म अमेरिका में होना चाहिए|

2 – उसकी उम्र कम से कम 35 वर्ष होनी चाहिए|

3 – चुनाव लड़ने वाला व्यक्ति कम से कम चौदह  बरस तक अमेरिका में रहा होना चाहिए|

अमेरिका में दो पार्टी का सिस्टम है पहली रिपब्लिकन और दूसरी डेमोक्रेट्स| दोनों पार्टियों को अपनी-अपनी तरफ से किसी एक व्यक्ति को राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाना होता है जिसे जनता वोट देती है|

कौन हो सकते हैं अमेरिका के राष्ट्रपति ?

DONALD TRUMP या JOE BIDEN ??

आइये ज्योतिष से जानें :-

( नोट- यहाँ प्रयुक्त डाटा astrodatabank से लिया गया है|Astro Data Bank में AA रेटिंग वाले डाटा के लिए कहा जाता है कि इनपर भरोसा किया जा सकता है| इसी भरोसे के तहत मैंने यह डाटा, ज्योतिषीय विश्लेषण के लिए वहां से लिया है| )

(सभी लोग विंशोत्तरी दशा से वाकिफ होते हैं इसलिए यहाँ चर्चा सिर्फ विंशोत्तरी दशा से करूंगी | दो और दशाओं का जिक्र करूंगी और यह कहना चाहूंगी कि किसी भी घटना के बारे में जानने के लिए एक से अधिक दशाओं का प्रयोग और साथ में अन्य यंत्रों के प्रयोग की सलाह ज्योतिष, composite  techniques के तहत देता है| इसलिए मैंने विंशोत्तरी दशा के साथ साथ चक्र दशा और काल चक्र दशा का प्रयोग, चंद्र वर्ष प्रवेश कुंडली के साथ यहाँ किया है| बाकी दशाएं भी वही संकेत दे रही हैं जो विंशोत्तरी दशा दे रही है|

 मैंने धनुराकर कोट चक्र से भी इसका विश्लेषण किया है| उसकी चर्चा अगले भाग में करुँगी | यहाँ धनुराकर कोट चक्र के आकृति की, ग्रहों के संचरण के साथ, प्रस्तुति है|पहली आकृति ट्रम्प साहब की कुंडली पर आधारित धनुराकर कोट चक्र की है और दूसरी आकृति बिडेन साहब की कुंडली पर आधारित धनुराकर कोट चक्र की है|)

पहले दोनों उम्मीदवारों की कुंडली का विश्लेषण विंशोत्तरी दशा से करेंगे, इसके बाद चंद्र वर्ष प्रवेश कुंडली से वस्तुस्थिति का जायजा लेंगे|

  

A – शुरुआत जन्म कुंडली विश्लेषण से करते हैं|

1 – DONALD TRUMP

14 – JUNE – 1946 / 10 : 52 : 10 / QUEENS / NEW  YORK / USA

चक्र दशा – 8th house/ 3rd house

काल चक्र दशा – वृश्चिक/ मीन

विंशोत्तरी दशा – गुरु/ शनि/ राहु ( jupiter / saturn / rahu )

यहाँ हम अपना ध्यान केंद्रित रखेंगे प्रत्यन्तर्दशानाथ राहु पर|

जन्म कुंडली में राहु दशम भाव में है लग्नेश सूर्य की साथ|

राहु का राश्याधिपति शुक्र, द्वादश भाव में षष्ठेश और सप्तमेश शनि के साथ है|

दशमांश कुंडली में, राहु लग्न में है एकादशेश सूर्य की साथ|

राहु का राश्याधिपति  शुक्र उच्च का होकर छठे भाव( चुनाव का भाव) में चतुर्थेश और पंचमेश शनि ( राजगद्दी और मंत्रीपद) के साथ बैठा है और द्वितीयेश मंगल से दृष्ट है|

लग्न कुंडली में स्थिति थोड़ी कमजोर है लेकिन दशांश कुंडली में काफी मजबूत स्थिति है| कह सकते हैं की शुरुआती कमजोरी पर धीरे धीरे सुधार की स्थिति है|

2 – JOE BIDEN

20- NOVEMBER- 1942 / 8 :30 am / SCRANTON/ PENNSYLVANIA / USA

चक्र दशा – 4th house/ 5th house

काल चक्र दशा – कर्क/ धनु

विंशोत्तरी दशा – गुरु/ राहु/ गुरु (Jupiter/ rahu/ Jupiter)

यहाँ भी हम सब अपनी दृष्टि प्रत्यन्तर्दशानाथ गुरु पर रखेंगे|

जन्म कुंडली में पंचमेश गुरु वक्री और उच्च का होकर नवम भाव में बैठा है|

चतुर्थेश शनि से सप्तम भाव से दृष्ट है|

दशमांश कुंडली में गुरु अपनी ही राशि मीन राशि में होकर छठे भाव में बैठा है|

यहाँ भी चतुर्थेश और पंचमेश शनि से नवम भाव से दृष्ट है|

दोनों जगहों को मिलाकर देखें तो स्थिति बहुत मजबूत है|

लेकिन गुरु का मीन राशि में होकर शनि से दृष्ट होना एक ऐसे योग को जागृत कर देता है जो परिणाम की प्रतिकूलता को दर्शाते हैं| ज्योतिष हर रोज कुछ नया सिखाती है| क्या JOE BIDDEN की कुंडली में बनने वाला एक योग इनकी जीत की राह को बाधित करेगा ?  खासकर जब यह योग वर्तमान दशा में सक्रीय हो गया हो? जहाँ एक तरफ पूरे विश्व की नज़र इस चुनाव और इसके परिणाम  पर है वहीं मेरी नज़र इस चुनाव के साथ साथ इस योग के परिणाम पर भी है|

B – अब आइये चंद्र वर्ष प्रवेश कुंडली से जाने की क्या संकेत है –

1 – DONALD TRUMP

यहाँ भी अपनी दृष्टि प्रत्यन्तर्दशानाथ राहु पर ही रखेंगे|

राहु चतुर्थ भाव में चतुर्थेश  बुध के साथ ही बैठा है|

बहुत ही अच्छा संकेत है|

2 – JOE BIDEN

यहाँ भी अपनी दृष्टि प्रत्यन्तर्दशानाथ गुरु पर ही रखेंगे|

गुरु अपनी राशि कोदंड राशि धनु का होकर अष्टमेश शनि के साथ और राहु, केतु अक्ष में है|

यहाँ से जो रूझान मिल रहे हैं वह इनके लिए प्रतिकूल स्थिति का संकेत देते हैं|

कह सकते हैं कि अमेरिका में नवंबर माह के तीन तारीख को होने वाले चुनाव में TRUMP साहब की पुनर्वापसी का संकेत है|

@बी. कृष्णा