धनु राशि में  बृहस्पति का गोचर क्या लेकर आ रहा है मेष ,सिंह ,धनु राशि और देश ,दुनिया के लिए

Image result for dhanu rashi jupiter

 

धनु राशि में  बृहस्पति का गोचर क्या लेकर आ रहा है मेष ,सिंह ,धनु राशि और देश ,दुनिया के लिए

 आज  देवगुरु बृहस्पति ने धनु राशि में प्रवेश किया है | | यह इनका खुद का घर है | इनकी मूल त्रिकोण राशि है |जब भी कोई बड़ा ग्रह राशि परिवर्तन करता है तो उसका पहला प्रभाव तो मौसम पर दिखता है और यह हमें दिख भी रहा है | अब आगे क्या ?? आगे बढ़ने से पहले जाने की बृहस्पति क्या और धनु राशि क्या है | बृहस्पति ,जिसकी दृष्टि गंगा जल के समान शुद्धि कारक कही गयी है परन्तु शास्त्रीय कथनो के अनुसार बृहस्पति ने अपने बहुत ही करीबी रिश्तेदार पर वासनापूर्ण दृष्टि डाली अर्थात यहाँ बृहस्पति की दृष्टि बचावकारी नहीं कही जाएगी | ऋग्वेद के अनुसार बृहस्पति एक बड़े चाटुकार हैं जो अपने फायदे के लिए हत्या तक करते हैं |तो बृहस्पति के बारे में चर्चा को आगे बढ़ने से पहले इन बातों को ध्यान में रखेंगे तो ही सही आकलन कर पाएंगे | धनु राशि ,कोदंड राशि भी कहा जाता है इसको | शुरुआती 15 डिग्री मनुष्य जिसके हाथ में तीर और धनुष है और बाद का 15 डिग्री घोड़े का शरीर होता है | घोड़ा ,शक्ति का परिचायक है | तो ऐसा मनुष्य जो क्रांतिकारी विचारधारा का तो है ही साथ में शक्ति से ओत प्रोत है | कोदंड मतलब धनुष | धनुष को हाथ में पकड़ने की कला होती है ,जरा सा भी संतुलन बिगड़ा नहीं की आप अपने लक्ष्य भेदन से चूक जाते हैं |अर्थात ऐसी राशि धनु राशि में बृहस्पति का प्रवेश ,गोचर हो रहा है | धनु  राशि में बृहस्पति जब जायेंगे तो वहां इनकी युति होगी शनि और केतु के साथ और साथ में इनपर दृष्टि होगी मंगल की | क्या संकेत है ?

1 – आर्थिक अस्थिरता और इसके जारी रहने के संकेत तो ग्रहों ने एक साल पहले ही दे दिया है | ज्योतिष ने एक साल पहले जिस मंदी के संकेत दे दिया था उसकी चर्चा अब देश -दुनिया के साथ साथ IMF  भी कर रहा  है |

2 – नवंबर माह में जो मौसम की अस्थिरता जारी हुई है उसके और बढ़ने के संकेत भी ग्रहों ने हमें पहले दे दिया है |

3 -राजनैतिक फ्रंट पर बहुत बड़े और हिंसक बदलाव के संकेत मिलता है खासकर 16  नवंबर के बाद से जब यह बृहस्पति अतिचारी होगा | अच्छी बात यह है की इस समय शनि ,वक्री नहीं है वर्ना तो चारो तरफ हाहाकार मच जाता |नवंबर माह के ही अंतिम सप्ताह में बृहस्पति को शुक्र के साथ मिलेगा और ये दोनों अतिचारी होंगे | राजनैतिक अस्थिरता बढ़ेगी | भारतवर्ष की कुंडली के अष्टम भाव में इस तरह के योग के बनना राजनैतिक रोष के बढ़ने के संकेत तो देते ही हैं साथ ही साथ अमेरिका और चीन के लिए भी अच्छा संकेत नहीं है | दिसम्बर के पहले सप्ताह में किसी महिला की वजह से राजनैतिक हलचल बढ़ने के संकेत है | महिला राजनयिक, न्याय से जुड़ी महिला के लिए अच्छा संकेत नहीं है |

4 –  धार्मिक उन्माद की स्थिति तैयार हो रही है।( राम मंदिर पर न्यायपालिका का निर्णय 20 नवम्बर के बाद ही। स्थिति की स्पष्टता अभी नहीं। कुछ hidden agenda तय किए जाने का संकेत )

-गुरु के राशि परिवर्तन करते ही या कहें की बड़े ग्रह के राशि परिवर्तन करते ही तथाकथित ज्योतिषयों में भिन्न भिन्न राशि के ऊपर इसके प्रभाव की चर्चा होने लगती है | ये फालतू है | हमेशा ये याद रखें की यह पूर्णतया गोचरीय स्थिति है | यह अपना प्रभाव प्रत्येक व्यक्ति की दशा के साथ ही मिलकर देगा |इसलिए इसका विश्लेषण करते समय अपनी दशा के जरूर ख्याल रखें | सिर्फ राशि फल के आधार पर फल कथन करेंगे तो भ्रमित होंगे |इसलिए राशिफल कहने वालों से बचिए | मेदिनी ज्योतिष में इस गोचर के बहुत महत्व है | व्यक्तिगत फल कथन को दशा के साथ ही देखेंगे |

6 – मेष ,सिंह राशि और धनु राशि,अग्नि तत्व  राशि है |

मेष राशि से नवम भाव में बृहस्पति के गोचर के समय अगर दशा अनुकूल है तो पिता के साथ सौहार्द पूर्ण सम्बन्ध बनेंगे |गुरुजनों का मार्गदर्शन और आशीर्वाद मिलेगा | धार्मिक यात्राएं होंगी |संस्कार और संस्कृति से जुड़ाव होगा |

सिंह राशि से पंचम भाव में बृहस्पति के गोचर के समय अगर दशा अनुकूल है तो विद्यार्थिओं  के लिए नए विचारों को जन्म देने वाला है ,कौशल विकास  के लिए अच्छा संकेत है | जो विद्यार्थी मैनेजमेंट की पढाई करना चाहते है उनके लिए अनुकूल  समय है यदि दशा के समर्थन भी है तब |जिनकी शादी हो गयी है और संतान प्राप्ति की चाह रखते हैं तो संतान प्राप्ति की दिशा में किये गए प्रयास सफल होंगे |

धनु राशि वालों के लिए यदि दशा अनुकूल है तब उनके आत्मविश्वास में बढ़ोतरी होगी |सफलता के नए रास्ते खुलेंगे | बीमारी समाप्त होगी और स्वस्थ्य लाभ होगा |नए विचारों के सूत्रपात होगा जिससे की समस्याओं का  निबटारा पहले से बेहतर तरीके से कर पाएंगे |

@B Krishna Narayan

YouTube Channel :- ASTRO TALK

www.lightonastrology.com