ग्रहों की जुगलबंदी और हम

नया साल आने में बस चन्द रोज बाकी हैं।नये साल (2016) के आते ही ऐसा प्रतीत हो रहा है मानो ग्रहों के बीच किसी प्रकार की जुगलबंदी होनी शुरू हो गई है और इसके माध्यम से वे अपनी बात हम तक पहुंचा रहे हैं। बुध जहाँ वक्री होकर मंगल से दृष्ट हो रहा है वहीं राहु राशि परिवर्तन करके सिंह राशि में आ रहा है। राहु के सिंह राशि में आते ही,देवगुरू बृहस्पति,जो कन्या राशि में जाने की तैयारी में हैं ,राहु को देखकर कुछ और समय राहु के साथ सिंह राशि में ही रहने का मन बनाया है वक्री होकर। इन दोनों के इस साथ पर शनि की दृष्टि रहेगी। 15 जनवरी को वक्री बुध मकर से धनु में आकर जहाँ मंगल की दृष्टि से बचेंगे वहीं 16 जनवरी को सूर्य धनु से मकर में जाकर मंगल से दृष्ट हो जाएंगे।
ग्रहों का एक दूसरे के साथ होकर,एक दूसरे से दृष्ट होकर, राशि परिवर्तन करके हमें कुछ बताना चाह रहे हैं। ग्रहों के इस संकेत को साथ मिल रहा है बादलों का। बादल अलग अलग आकृतियाँ उकेर कर ग्रहों द्वारा दिए गए संकेत को बल प्रदान कर रहे हैं। विगत दो दिनों से बादल में ऊँ तथा शुभलाभ की विकृत आकृति दिखायी दे रहा है।

1 – किसी बड़े धार्मिक कट्टरता,धार्मिक हिंसा और धार्मिक अराजकता का समय है।

2 – ग्रहों के इस चाल से जहाँ मौसम के बदलते मिजाज का लुत्फ़ उठाने का संकेत है तो वहीं बेमौसम बारिश और तूफान से नुकसान की संभावना भी तेज है।साथ ही साथ भूकंप और सड़क तथा रेल दुर्घटना का संकेत भी है।खदान दुर्घटना के भी आसार ।

3 – न्यायालय द्वारा कुछ significant judgement deliver किए जाने का संकेत है जिसकी चर्चा आगे आने वाले समय में भी की जाएगी।

4 – भारतीय चुनाव प्रक्रिया में बदलाव का संकेत। हालांकि इस तरह का कोई भी परिवर्तन रातों रात नहीं होता,इसमें वक्त लगता है,पर उस बदलाव की नींव अभी रखे जाने का संकेत।

5 –किसी NGO और TRUST के खिलाफ भूमि विवाद तथा वित्तीय अनियमितता के मामले का तूल पकड़ने का संकेत

6 – High profile sex scandal के सामने आने का संकेत।साथ ही Alimony को लेकर सुर्खियाँ बनने का संकेत।

7 – चिकित्सा के क्षेत्र में nervous system तथा respiratory system के क्षेत्र में महत्वपूर्ण खोज के सामने आने का संकेत।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s