22-August -2015

1.. अर्थ और युद्ध जैसी स्थिति को केन्द्रित करता हुआ एक और दिन। वक्री शुक्र और नीच के मंगल की कर्क राशि में बढ़ती नजदीकियों पर पैनी दृष्टि रखने की आवश्यकता। इन दोनों की नजदीकियां जहाँ Russia और West Asia में युद्ध जैसी हालात को हवा दे रहे हैं वहीं China में सर्वव्यापी बदलाव को आमंत्रित कर रहे हैं।

2.. बाज़ार की अस्थिरता बरकरार।

3.. विश्व के पटल पर एक प्रभावशाली नेता के प्रादुर्भाव की भूमिका तैयार करता हुआ एक दिन। साथ ही साथ युद्ध की रणनीतियों में महिलाओं की बढ़ती भागीदारी के लिए उपयुक्त मंच का निर्माण करता हुआ एक दिन।

4.. Pakistan तथा India. दोनों जगहों पर आंतरिक अशांति को दर्शाता हुआ दिन। Pakistan में असंयमित भाषा के प्रयोग की वजह से विवाद पैदा हो सकता है।

5.. सभी प्रकार की अस्थिरता के बीच भारतीय मूल के किसी छात्र द्वारा की गई खोज को सराहना मिलने का संकेत।

6.. शुक्र और मंगल के साथ साथ चंद्र पर भी नजर रखने का समय। कुछ ही समय में यह वृश्चिक राशि में शनि के साथ मिलकर ( खासकर जब 3* से 14* के बीच हो ) एक बार फिर से प्राकृतिक आपदाओं को आमंत्रित करते हुए दिखाई देंगे।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s